Sarso Ka Mandi Bhav 20 March 2024

सरसों एक प्रमुख खाद्य मसाला है जो भारतीय खाने में उपयोग किया जाता है। यह तेल, मसाले, और अन्य व्यंजनों के साथ मिलाकर बनाया जा सकता है। सरसों के बीजों से निकाला जाने वाला तेल भी बहुत उपयोगी होता है और यह खाद्य पकवानों को स्वादिष्टता और आकर्षकता देता है। भारतीय रसोई में सरसों के तेल का उपयोग अत्यधिक किया जाता है, विशेष रूप से पश्चिमी और उत्तरी भारत के क्षेत्रों में। यह भारतीय व्यंजनों को एक अनूठा स्वाद प्रदान करता है और उन्हें अधिक स्वास्थ्यप्रद बनाता है।

Sarson Ka Mandi Bhav 20 March 2024

Sarso Ka Mandi Bhav 20 March 2024

जयपुर (JAIPUR)
सरसों (SARSO)5425/5450+25
सरसों ऑइल कच्ची घानी 10300/10310+0
सरसों ऑइल एक्सपेलर 10200/10210+0
खल 2485/2490+0

दिल्ली (DELHI)
सरसों (SARSO)5300/5350-50
सरसों ऑइल एक्सपेलर 10250-100

Sarso Ka Mandi Bhav 20 March 2024

चरखी दादरी (CHARKHI DADRI)
सरसों (SARSO)5250/5300-50
सरसों ऑइल एक्सपेलर 10100-100
खल KHAL)2470-40

अलवर (ALWAR)
कंडीशन (CONDITION)-5050/5100+75
मण्डी (MANDi)-4600/5050+50
आवक (ARRIVAL)-15000 कट्टे (KATTE)
कच्ची-घानी (KACHCHi-GHANi)-10200
एक्सपिलर (EXPILOR)-10000
खल (KHAL)-2425-75

गोयल कोटा (GOYAL KOTA )
सरसों (SARSON) भाव 5250+50

सरसों (MUSTARD)
शमसाबाद आगरा (SHAMSABAD AGRA)-5850+50
आगरा दिग्नेर (AGRA DIGNER)-5850+50
अलवर सलोनी (ALWAR SALONI)-5775+50
कोटा सलोनी (KOTA SALONI)-5750+50
मुरैना (MORENA)-5800+50

Sarso Ka Mandi Bhav 20 March 2024

सरसों (SARSON)
भरतपुर नयी LOCAL-5047+16
आवक बोरी (ARRIVAL BORI)-7500/8000
कामां (KAMAN)-5047+16
कुम्हेर (KUMHER)-5047+16
नदबई (NADBAI)-5047+16
डीग (DEEG)-5047+16
नगर (NAGAR)-5047+16
कोटा (KOTA)-5047+16

सरसों ( MUSTARD)
अलवर (ALWAR)-5100+100
आवक बोरी (ARRIVAL BORI)-10000
खैरथल (KHAIRTHAL)-5100+100
आवक बोरी (ARRIVAL BORI)-100

Sarso Ka Mandi Bhav 20 March 2024

गंगापुर सिटी (GANGAPUR CITY)
HASTI AGRO
सरसों नयी ( MUSTARD NEW)-5025+35
आवक बोरी (ARRIVAL BORI)-15000
सरसों तेल कच्ची घानी -1020+0
सरसों तेल एक्सपेलर -995/1000+0
खल (KHAL)-2550/2575-85

अलवर (ALWAR)
सरसों तेल कच्ची घानी
(MUSTARD OIL KACHCHI GHANI)-1030+10
सरसों तेल एक्सपेलर (MUSTARD OIL EXP.)-1010+0
खल (KHAL)-2430-20

खैरथल (KHAIRTHAL)
सरसों तेल कच्ची घानी -1030+10
खल (KHAL)-2430-20

सरसों खल दिल्ली (SARSON KHAL DELHI)
लोकल (LOCAL)-NA
भारत मोदीनगर (BHARAT MODINAGAR)-3081-20
इंजन मथुरा (ENGINE MATHURA)-2801-50
शारदा आगरा (SHARDA AGRA)-2751-100
अमृत कुम्हेर (AMRIT KUMHER)-3001+0
बीरबालक जयपुर (BEERBALAK JAIPUR)-2601-125
शताब्दीअलवर (SHATABDIALWAR)-2725-100
चौधरी गाज़ियाबाद (CHAUDHARY GHAZIABAD)-2961-40
इंजन भरतपुर ( ENGINE BHARATPUR)-2821-40

सरसों की आवक
राजस्थान आवक 800000 बोरी
मध्य प्रदेश आवक 180000 बोरी
उत्तर प्रदेश आवक 190000 बोरी
हरियाणा+ पंजाब आवक 100000 बोरी
गुजरात आवक 65000 बोरी
अन्य राज्य आवक 190000 बोरी
कुल आवक 1525000 बोरी

Sarso Ka Mandi Bhav 20 March 2024

सरसों एक प्रमुख खाद्य मसाला है जो भारतीय खाने में उपयोग किया जाता है। यह तेल, मसाले, और अन्य व्यंजनों के साथ मिलाकर बनाया जा सकता है। सरसों के बीजों से निकाला जाने वाला तेल भी बहुत उपयोगी होता है और यह खाद्य पकवानों को स्वादिष्टता और आकर्षकता देता है। भारतीय रसोई में सरसों के तेल का उपयोग अत्यधिक किया जाता है, विशेष रूप से पश्चिमी और उत्तरी भारत के क्षेत्रों में। यह भारतीय व्यंजनों को एक अनूठा स्वाद प्रदान करता है और उन्हें अधिक स्वास्थ्यप्रद बनाता है।

Sarso Ka Mandi Bhav

सरसों के बीज से निकाला गया तेल विभिन्न स्वास्थ्य लाभों के लिए भी जाना जाता है। यह एक स्रोत होता है ओमेगा-3 फैटी एसिड्स का, जो हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं। सरसों के तेल में विटामिन ई भी होता है, जो त्वचा और बालों के लिए फायदेमंद होता है।

Sarso Ka Mandi Bhav

भारतीय खाने में, सरसों के तेल का उपयोग विभिन्न तरीकों से किया जाता है। इसे तड़के, सलादों में मिशाया जाता है, और विभिन्न सब्जियों और दालों को पकाने के लिए उपयोग किया जाता है। भारतीय व्यंजनों में सरसों के तेल का उपयोग उन्हें एक विशेष आकर्षण और स्वाद मिलता है।

Sarso Ka Mandi Bhav

सरसों के तेल का उपयोग अलग-अलग क्षेत्रों में भी किया जाता है। उत्तर भारत में, मक्की के रोटी के साथ सरसों का साग एक पॉपुलर व्यंजन है, जबकि पश्चिमी भारत में यह बासी सब्जियों में भी उपयोग किया जाता है।

Sarso Ka Mandi Bhav

सरसों के तेल का उपयोग भारतीय खाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और इसका स्वास्थ्य लाभ भी होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Explore More

gehun se Jyada munafa Kaise len

14 February 2024 0 Comments 0 tags

Gehun se Jyada munafa Kaise lenगेहूं की उत्पादकता को बढ़ाने के लिए आप उपयुक्त सिंचाई प्रणाली का उपयोग करें। गेहूं की उत्पादकता को बढ़ाने के लिए आप उपयुक्त सिंचाई प्रणाली

आलू की खेती कैसे करे ??

13 December 2023 0 Comments 0 tags

आलू की खेती कैसे करे ?? आलू की खेती को सफलतापूर्वक करने के लिए कई कदम उठाने पड़ते हैं। पहले तो, सबसे पहले उच्च गुणवत्ता वाले बीजों का चयन करना

Palak ki kheti kaise karen

27 December 2023 0 Comments 0 tags

Palak ki kheti kaise karen puri jankari   पालक एक पौध (vegetable) और एक प्रकार का पत्तियाँदार सब्जी है, जिसे अंग्रेजी में “Spinach” कहा जाता है। यह सब्जी आमतौर पर